ऊदल चौक, नैकानापुरा एवं माथुरनपुरा को मिलाकर बनाये गए क्लस्टर/ कण्टेन्मेंट जोन का डीएम और एसपी ने किया निरीक्षण

ऊदल चौक, नैकानापुरा एवं माथुरनपुरा में एक-एक कुल तीन कोरोना संक्रमित मरीज पाए जाने पर नैकानापुरा एवं माथुरनपुरा के मध्य को केंद्र बिंदु मानते हुए 500 मीटर रेडियस को आधार मानकर कण्टेन्मेंट / क्लस्टर जोन बनाया गया है।कण्टेन्मेंट जोन के बाहर 250 मीटर अर्थात 750 मीटर रेडियस के आधार पर बफरजोन बनाया गया है...

ऊदल चौक, नैकानापुरा एवं माथुरनपुरा को मिलाकर बनाये गए क्लस्टर/ कण्टेन्मेंट जोन का डीएम और एसपी ने किया निरीक्षण
Mahoba-DM-SP-Inspection

ओपेन्द्र गोस्वामी, महोबा

  • बिना मास्क के मिलने व सार्वजनिक स्थानों पर पान मसाला इत्यादि थूकने पर किया जाएगा चालान - डीएम

उक्त जानकारी देते हुए जिला मजिस्ट्रेट अवधेश कुमार तिवारी ने कहा कि मुख्य बाजार सहित ऊदल चौक से आल्हा चौक एवं सुभाष चौक तक का क्षेत्र कण्टेन्मेंट जोन के अंतर्गत आ रहा है इसलिए इसमें आवश्यक सेवाओं को छोड़कर समस्त गतिविधियां प्रतिबंधित रहेंगीं।आवश्यक सेवाओं में मेडिकल, सब्जी, दूध आदि की डोर टू डोर डिलीवरी करायी जाएगी। कण्टेन्मेंट ज़ोन के अंदर आने वाले सभी घरों का डोर टू डोर सर्विलांस होगा तथा सम्पूर्ण क्षेत्र का प्रॉपर सेनेटाइजेशन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : ऑटो ड्राइवर की धारदार हथियार से हत्या

जिला मजिस्ट्रेट ने एसपी मणिलाल पाटीदार के साथ उक्त कण्टेन्मेंट जोन का निरीक्षण करते हुए कहा कि जनपद में धीरे-धीरे कोरोना पैर पसार रहा है।अब तक यहां 80 कोविड 19 के केस आ चुके हैं, जिनमें से 57 को डिसचार्ज किया जा चुका है और जनपद में अभी भी 23 एक्टिव केस हैं।यह जानकारी देने के साथ ही उन्होंने जनपदवासियों से अपील करते हुए कहा कि सभी जन मास्क लगाकर चलें और बिना मास्क के कोई गतिविधि किसी भी प्रकार की नहीं होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि बिना मास्क के पाए जाने पर 500 रुपये का चालान किया जाएगा।ये भी कहा कि सभी लोग सोशल डिस्टेंसिन्ग का पालन करें।सार्वजनिक स्थानों पर ज्यादा लोग एकत्र न हों।साथ ही पब्लिक प्लेस पर पान मसाला इत्यादि थूकने पर भी जुर्माने का प्रावधान किया गया है। इसकी अवहेलना करने पर चालान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : विकास दुबे के लिए मुखबिरी करने वाला गिरफ्तार दारोगा पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

इस दौरान डीएम ने एसडीएम सदर राजेश यादव व ईओ नगरपालिका महोबा लाल चन्द्र सरोज को निर्देश दिए कि कोरोना से सम्बंधित नियमों का सख़्ती से पालन कराया जाए तथा प्रॉपर सेनेटाइजेशन के साथ ही सभी घरों का सर्विलांस किया जाए।