आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिए ये बड़े निर्णय ले रही मध्‍य प्रदेश की सरकार

मध्यप्रदेश की सरकार राज्‍य को आत्‍म निर्भर बनाने के लिए एक के बाद एक सफल निर्णय ले रही है...

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिए ये बड़े निर्णय ले रही मध्‍य प्रदेश की सरकार
आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश

भोपाल,

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संकल्प के अनुरूप हमारी सरकार 'आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश' बनाने के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में वह सार्थक प्रयास कर रही है । उक्‍त बातें आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के संबंध में रोडमेप तैयार करने के लिए आयोजित वेबिनार को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कही। 

मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा, रोडमैप के लिए आप सभी विशेषज्ञ आज चर्चा करेंगे, मंथन करेंगे। मुझे विश्वास है कि इस मंथन से अमृत निकलेगा और मैं उस अमृत को जनता तक पहुंचाऊंगा। आपके बहुमूल्य सुझावों का इम्प्लीमेंटेशन किया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि कोविड-19 ने अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ दी लेकिन हम हाथ पर हाथ रखकर नहीं बैठे। अलग-अलग पहलुओं को ध्यान में रखकर आर्थिक सशक्तिकरण की ओर भी अनेक कदम उठाए गए हैं।

Shivraj Singh Chauhan, MP

हमें प्रदेश की संपदाओं का दोहन कर आत्‍म निर्भर मध्‍यप्रदेश का निर्माण करना है। इस दौरान सीएम शिवराज ने कहा कि महिला सशक्तिकरण की दिशा में भी मध्यप्रदेश में अनेक कार्य हुए हैं। महिला स्वसहायता समूहों को कैसे सशक्त किया जाए, इस ओर प्रयास निरंतर जारी हैं। कोविड-19 काल में महिलाओं ने आगे बढ़कर आर्थिक रूप से सशक्त बनकर दिखाया है। इसी तरह से आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिए अनेक निर्णय मध्‍य प्रदेश की सरकारले रही  है।

यह भी पढ़ें : राष्ट्रीय शिक्षा नीति से तैयार होगी 21वीं सदी के नए भारत की नींव : मोदी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को प्रात: 11 बजे वेबीनार का शुभारंभ किया। इस वेबीनार में मध्यप्रदेश शासन के मंत्रीगण, सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश प्रभु, नीति आयोग के विशेषज्ञ, नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अमिताभ कांत और वरिष्ठ अधिकारी शामिल हो रहे हैं। इसी क्रम में 8, 10 एवं 11 अगस्त को भी विभिन्न विषयों पर वेबीनार आयोजित किये जाएंगे।

खास तौर से इस वेबीनार में मंत्री गोपाल भार्गव, तुलसीराम सिलावट, कुंवर विजय शाह, श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, भूपेंद्र सिंह, ऐदल सिंह कंषाना,  विश्वास सारंग, प्रद्युम्न सिंह तोमर, सुश्री उषा ठाकुर, भरत सिंह कुशवाह और  इंदर सिंह परमार वेबीनार में भाग ले रहे हैं । आज वेबीनार श्रृंखला में पहला वेबीनार भौतिक अद्योसंरचना सेक्टर पर हो रहा है । इसमें नोडल अधिकारी अपर मुख्य सचिव नर्मदा घाटी विकास एवं पर्यटन आई.सी.पी. केशरी एवं नीति आयोग के सलाहकार संजय शाह द्वारा प्रजेन्टेशन दे रहे हैं ।

यह भी पढ़ें : राहुल का केंद्र पर तंज, कहा- '20 लाख का आंकड़ा पार, गायब है मोदी सरकार'

वेबीनार के नोडल अधिकारी केशरी ने बताया कि विभिन्न सत्रों में 130 विशेषज्ञ शामिल होंगे, जिनमें नीति आयोग नई दिल्ली के सीईओ अमिताभ कांत, एडवाईजर (एचएसआरएंडपीपीपी) सोंजोय कुमार शाह, इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर फायनेंस कंपनी लिमिटेड के एमडी पी.आर. जयशानर, नेशनल इंवेस्टमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर फंड के सीईओ सुजोय बोस, यूनीसेफ के वॉश स्पेशलिस्ट पंकज माथुर, ईएंडवाय के पार्टनर रामकुमार एसव्ही, ईएंडवाय के अनूप नारायण, अडानी ग्रुप के सीईओ के.डी. माहेश्वरी, एनएचडीसी भोपाल के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर अरूण कुमार मिश्रा, टूरिज्म जीओआई की डीजी मीनाक्षी शर्मा, एफएचआरएआई वेस्टर्न रीजन के प्रेसीडेंट सुमीत सुरी, एटीओआई के प्रेसीडेंट स्वदेश कुमार, एसोसिएशन ऑफ डोमेस्टिक टूर ऑपरेटर्स के चैयरमेन अतुल सिंह, एफआईसीसीआई के प्रतिनिधि शांतनु त्रिपाठी, वर्ल्ड बैंक के प्रतिनिधि मणि खुराना, रिन्यु पॉवर के प्रतिनिधि सुमंत सिन्हा, एनटीपीसी के प्रतिनिधि गुरदीप सिंह शामिल हो रहे हैं ।

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश में अब 17 जिले बाढ़ प्रभावित, 446 गांवों का संपर्क सड़कों से टूटा

इसके अलावा पीडब्ल्यूसी के प्रतिनिधि कामेश्वरा राव, केएफडब्ल्यू के प्रतिनिधि डॉ. क्रिस्टोफ केशलर, पीएफसी के प्रतिनिधि रविन्द्र सिंह ढिल्लो, ईडीएफ के प्रतिनिधि हरमनजीत नेगी, एलएंडटी चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर एलएंडडी आईडीपीएल शैलेष पाठक, आईएलएफएस के फारमर सेक्रेटरी, डिपार्टमेंट ऑफ फायनेंस डी.के. मित्तल, एनएएचआई के मेम्बर आर.के. पाण्डे, केपीएमजी के पार्टनर समीर जैन, पीएनबी के चीफ मैनेजर कार्पोरेट बैंकिंग अनूप कुमार सिंह, स्पॉ एंड एनआईयूए नई दिल्ली के एक्स. डायरेक्टर चेतन वैद्य, सीईपीटी अहमदाबाद के एनवायरमेंट प्रो. शाश्वत बंदोपाध्याय, सीएमआर इन्फ्रा के प्रतिनिधि सतीश राव, लक्ष्मी इंजीनियरिंग के प्रतिनिधि रोहन मुनियार, क्रेडाई एमपी के चैयरमेन वाशिक हुसैन, चैयरमेन स्पॉ नई दिल्ली आर्किटेक्ट अमोक गुप्ता, स्मार्ट चिप के कंट्री हेड आलोक मुखर्जी, कंकोर के सीजीएम अनुपम सतपथी, अडानी इंटरप्राइजेज के डायरेक्टर प्रणव अडानी, अडानी लाजिस्टिक्स लिमिटेड के सीईओ श्री संदीप मेहता, ओम लाजिस्टिक्स के सीईओ पुनीत गुप्ता, ग्रांट थॉर्टन के कंसलटेंट अजगर नकवी सहित अन्य संस्थाओं के विशेषज्ञ प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं ।

हिन्‍दुस्‍थान समाचार