अगर आप भी अयोध्या की ओर जा रहे हैं, तो इन रास्तों से जायें

श्रीराम जन्मभूमि पूजन को लेकर भीड़ को नियंत्रित करने को रूट डायवर्जन को प्रभावी कर दिया गया है, अब यह बुधवार की शाम तक प्रभावी रहेगा। तीर्थ यात्रियों से भरे वाहनों को स्टांपिंग पॉइंट पर रोका जा रहा है..

अगर आप भी अयोध्या की ओर जा रहे हैं, तो इन रास्तों से जायें

अयोध्या,

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर के निर्माण के भूमि पूजन करने के लिए आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चलते जिले की परिवहन व्यवस्था को बदल गई है। जिला प्रशासन ने अयोध्या होकर लखनऊ और लखनऊ से अयोध्या होते हुए अन्य मार्गों पर जाने वाले वाहनों का रूट परिवर्तित हुआ है। यह परिवर्तन मंगलवार से प्रभावी कर दिया गया है।

बुधवार की शाम तक प्रभावी रहने वाले इस रूट परिवर्तन की वजह से अयोध्या में बस्ती और टांडा की ओर से आने वाले वाहनों को सम्हरिया चौराहा से कटरिया याकूबपुर से बाईपास होते हुए महरुआ सुल्तानपुर मार्ग से, आजमगढ़ और बसखारी से आने वाले वाहनों को न्योतरिया से बाईपास से महरुआ सुल्तानपुर मार्ग से, वाराणसी जौनपुर मालीपुर से आने वाले वाहनों को सिझौली से बाईपास से महरुआ सुल्तानपुर मार्ग पर और जलालपुर की ओर से आने वाली वाहनों को सम्मोपुर मौहरिया बाईपास से महरुआ सुल्तानपुर मार्ग से लखनऊ की ओर भेजा जा रहा है।

स्टापिंग प्वाइंट बने
वाहनों का रूट डायवर्जन करने को जिले में चार स्टापिंग पॉइंट बनेें हैं। इनमें टांडा-वाया-अयोध्या मार्ग पर सेवागंज बैरियर, अकबरपुर-अयोध्या मार्ग पर यादवनगर तिराहा बैरियर, भीटी-गोसाईगंज-तारुन मार्ग पर चनहा चौराहा बैरियर और भीटी-हैदरगंज अयोध्या मार्ग पर भीटी चौराहे का बैरियर शामिल है।

बुधवार को अयोध्या में प्रवेश नहीं कर पाएंगे तीर्थ-यात्री
बुधवार को अयोध्या में सामान्य लोगों के प्रवेश पर पाबंंदी है। इतना ही नहीं, अयोध्या में तीर्थ यात्रियों को भी प्रवेश नहीं मिलेगा। तीर्थ यात्रियों को जिले में बने चार स्टांपिंग पॉइंट पर ही रोक दिया जाएगा। उन्हें देव इंद्रावती पीजी कॉलेज कटेहरी, गंगा चिल्ड्रन अकादमी भीटी और रामलाल रामफेर इंटर कॉलेज सेवागंज में रोका जाएगा। 

अयोध्या-लखनऊ रूट डायवर्जन
बाराबंकी एसपी डा. अरविंद चतुर्वेदी ने जारी बयान में कहा है कि रूट डायवर्जन सोमवार रात 12 बजे से लागू हो गया है। इसके तहत समस्त वाहनों को अयोध्या हाईवे पर चौपुला के पास से डायवर्ट किया जा रहा है। ये वाहन बहराइच, गोण्डा होते हुए आगे का सफर तय करेंगे। सफदरगंज चौराहे से बदोसराय होते हुए भी वाहन भेजे जाएंगे। इस दौरान सिर्फ छोटे वाहनों को जाने दिया जाएगा, वह भी जिनके वाहन यूपी 42 वाले होंगे। दूसरे वाहनों से जाने वाले उन लोगों को भी छोड़ा जाएगा, जिन लोगों के पास अयोध्या निवासी होने की आईडी कार्ड होगा। सरकारी वाहनों के अलावा अयोध्या में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होने वाले अनुमन्य लोगों को ही जाने की इजाजत होगी।

हिन्दुस्थान समाचार