एंबुलेंस 108 पछहयां लोहारों की झोपड़ी में घुसी तो फिर क्या हुआ...

तेज रफ्तार से जा रही एंबुलेंस 108 आज अनियंत्रित होकर पछहयां लोहारों के झोपड़ी में घुस गई।जिससे झोपड़ी में सो रही मां बेटी गंभीर रूप से घायल हो गई।जिन्हें इलाज के लिए ट्रामा सेंटर लाया गया। जिसमें डॉक्टरों ने मां को मृत घोषित कर दिया जबकि बेटी का इलाज चल रहा है...

एंबुलेंस 108 पछहयां लोहारों की झोपड़ी में घुसी तो फिर क्या हुआ...

घटना कमासिन थाना क्षेत्र के बबेरू मार्ग में पशु बाजार के पास सड़क किनारे बनी झोपड़ी में हुई। शनिवार को सुबह 108 एंबुलेंस बबेरू से कमासिन की ओर जा रही थी। जिसकी रफ्तार तेज थी अचानक एंबुलेंस अनियंत्रित होकर सड़क किनारे बनी पछइयां लोहारों की झोपड़ी में घुस गई। जिससे वहां सो रही मां और उसकी बेटी कुचल गई। इस मामले में थाने में विपिन कुमार ने सूचना दी कि मेरी मौसी विमला देवी पत्नी मोहर व कुमारी ममता पुत्री मोहर एंबुलेंस के झोपड़ी में घुस जाने के कारण गंभीर रूप से घायल हो गई हैं।

यह भी पढ़ें : कुरान की शिक्षा लेने वाली मासूम बच्ची को मौलाना ने जब...

वही प्रभारी निरीक्षक कमासिन विनोद कुमार सिंह ने बताया कि सूचना मिलते ही घायलों को इलाज हेतु जिला अस्पताल भेजा गया है।जिसमें डॉक्टरों ने मां को मृत घोषित कर दिया। इस इस मामले में अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि एंबुलेंस अनियंत्रित होकर पछाइयां लोहारों की झोपड़ी में घुस गई, जिससे मां बेटी चपेट में आ गई और दोनों का गंभीर रूप से घायल हो गई। इन्हें ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया था, इनमें से महिला को मृत घोषित कर दिया गया है।तहरीर प्राप्त होने पर अभियोग पंजीकृत कर कार्यवाही की जाएगी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

यह भी पढ़ें : 'सपा काल के कार्यों का फीता काट रहे मुख्यमंत्री' : अखिलेश यादव