?> चरखारी विधायक बृजभूषण राजपूत ने दिया विवादित बयान, कहा - हिंदुस्तान मुस्लिमो का देश नही, अगर हिन्दू चाहेगा तो मुस्लिमो को भगा देंगे बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ यूपी में योगी सरकार के आते ही नेताओ के बयान रुकने का न"/>

चरखारी विधायक बृजभूषण राजपूत ने दिया विवादित बयान, कहा - हिंदुस्तान मुस्लिमो का देश नही, अगर हिन्दू चाहेगा तो मुस्लिमो को भगा देंगे

यूपी में योगी सरकार के आते ही नेताओ के बयान रुकने का नाम नही ले रहे हैं। बहरहाल , उत्तर प्रदेश में भाजपा का वनवास तो समाप्त हो चुका है लेकिन अप्रत्याशित जीत से लबरेज भाजपा विधायकों की बदजुबानी थमने का नाम नही ले रही। आज बुन्देलखण्ड के महोबा जिले के चरखारी विधानसभा से भाजपा विधायक ब्रजभूषण उर्फ गुड्डू राजपूत ने मुस्लिमो को लेकर विवादित बयान दिया है। दरअसल , फेसबुक लाइव पर दिये बयान में भाजपा विधायक ने कहा कि हिंदुस्तान मुस्लिमों का देश नहीं है और अगर सौ करोड़ हिन्दू चाह लेंगे तो 20 करोड़ मुसलमानों को भगा देंगे। यही नहीं मुसलमानों को उनके तीर्थ मक्का-मदीना भी नहीं जाने दिया जाएगा।

फिलहाल बयान की चारो तरफ आलोचना हो रही है और खुद पार्टी ने भी इस बयान से किनारा कर लिया है। भाजपा विधायक के इस से मुस्लिम समाज में खासी नाराजगी देखने को मिल रही हैं।

लगातार चाहे वो ओवौसी हों , साक्षी महाराज , साध्वी प्राची , साध्वी निरंजना ज्योति हों या आजम खान हों सभी के सभी देश में विकास की बातों से इतर धार्मिक सदभाव बिगाड़ने की लगातार कोशिश कर रहे हैं । इन बयानों से देश का माहौल तो खराब होता ही है, लेकिन समाज में बेहद नकारात्मक सन्देश भी जाता है । जिससे देश की एकता अखंडता पर खतरा मंडराने लगता हैं।

बुन्देलखण्ड से भाजपा के युवा विधायक इतना बयान देकर रुके नही बल्कि उन्होंने राम मंदिर मुद्दे को भी गर्म करते हुए कहा कि इस देश में राम मंदिर बनाया जाएगा ।  सौ करोड़ हिन्दू मंदिर बनाएंगे और यदि मुस्लिम मंदिर बनाने में रुकावट पैदा करेंगे तो मुसलमानों को भी मक्का-मदीना नहीं जाने दिया जाएगा ।

उन्होंने कहा कि मुस्लिम हिन्दुओं के धार्मिक काम में बाधा पहुंचाते हैं। तो मुसलमानों को हज जाने से रोका जाना चाहिये, हज की सब्सिडी भी ख़त्म होनी चाहिए। इनसे अब अल्पसंख्यक का दर्जा छिनना चाहिये मुसलमान अब अल्पसंखयक नहीं है, मगर इन्हें आरक्षण का लाभ प्राप्त हो रहा है।

बहरहाल, भाजपा विधायक के इस बयान से कुछ हो या न हो लेकिन देश की राजनीति बेहद गर्म हो गई है। तमाम पार्टियों के नेताओ ने इस बयान की कड़ी निंदा की है और कहा है कि क्या यही है भाजपा का 'सबका साथ - सबका विकास'। फ़िलहाल बड़ा ही हास्यापद विषय है कि जिस बुन्देलखण्ड से विधायक जी ताल्लुक रखते हैं वहाँ अगर विकास कैसे हो इस पर बातचीत की जाये तो उचित होगा लेकिन इन बयानों का वो आम जनमानस क्या करे जिसने अपना वोट मूलभूत सुविधाएं प्राप्त करने की आस में दिया था।



चर्चित खबरें