बाँदा : नवरात्रि के पहले दिन आस्था पर फीकी पड़ी महामारी

शारदीय नवरात्र के पहले दिन जनपद के देवी मंदिरों में सुबह से ही देवी भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी...

बाँदा : नवरात्रि के पहले दिन आस्था पर फीकी पड़ी महामारी
महेश्वरी देवी मंदिर में भक्तों की भीड़

शारदीय नवरात्र के पहले दिन जनपद के देवी मंदिरों में सुबह से ही देवी भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। सामाजिक दूरी का पालन करते हुए भक्तों ने पूजा-अर्चना की जबकि कई मंदिरों में आस्था के आगे महामारी से बचने के लिए बनाये गए नियमों पर ध्यान नहीं दिया गया।

यह भी पढ़ें - बाँदा में शिला के रूप में प्रकट हुई थी महेश्वरी देवी

Maheshwari devi mandir banda, माहेश्वरी देवी मंदिर, बाँदा, Navratri banda

शहर महेश्वरी देवी मंदिर में सुबह से ही श्रद्धालुओं का पहुंचना शुरू हो गया था। जिसमें सर्वाधिक संख्या महिलाओं व बच्चों की रही। स्वयंसेवकों ने सैनिटाइजर के माध्यम से श्रद्धालुओं के हाथ सेनीटाइज कराए उसके बाद ही उन्हें मंदिर के अंदर जाने दिया , जो श्रद्धालु मास्क नही लगाए थे उन्हें मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई ।

इसी तरह काली देवी, सिंह वाहिनी, मरही माता,चौसठ जोगनी सहित सभी देवी मंदिरों में भक्तों का तांता लगा रहा। जिन्होंने श्रद्धा और उल्लास के साथ जलाभिषेक किया और बहुत से भक्तों ने मां के दरबार में नारियल फल फूल के साथ पूजा अर्चना की और  जयकारा लगाते हुए माथा टेका ।

यह भी पढ़ें - नवरात्रि 2020 : नवरात्रि का हर दिन है खास, शुभ मुहूर्त और विधि, यहां जानें

नवरात्रि महोत्सव में जहां मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ रहती है  वही देवी पंडालों में ही मूर्ति स्थापना के लिए भक्त जुटे नजर आए। इसी तरह प्रसिद्ध विंध्यवासिनी मंदिर खत्री पहाड़ में भी श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। जनपद के बबेरू कस्बे में स्थित देवी मंदिर में भी श्रद्धालु पूजा-अर्चना करने में जुटे रहे।

Maheshwari devi mandir banda, माहेश्वरी देवी मंदिर, बाँदा, Navratri banda

इधर जो श्रद्धालु 9 दिनों तक व्रत रखते हैं उन्होंने अपने घरों में घट स्थापना के लिए मिट्टी के कलश  खरीदें, महेश्वरी देवी मंदिर के बाहर मिट्टी के कलश बेचने वालों की दुकाने सजी रही।

यह भी पढ़ें - भोजपुरी फिल्म लिट्टी चोखा की शूटिंग बाँदा के बाद अब चल रही है यहाँ

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
1
funny
0
angry
0
sad
0
wow
1