बांदा में प्रेमिका के बच्चे ले जाने का पिता ने किया विरोध, प्रेमी ने गोली मारी

प्रेमिका के सो रहे बच्चों को चोरी से ले जा रहे प्रेमी का प्रेमिका के पिता ने विरोध किया। बच्चों को छीनने का प्रयास किया, तभी प्रेमी ने प्रेमिका के पिता को गोली मारकर घायल कर दिया और मौके से फरार हो गया।

बांदा में प्रेमिका के बच्चे ले जाने का पिता ने किया विरोध, प्रेमी ने गोली मारी

  • एक माह पहले बच्चे छोड़ प्रेमी संग प्रेमिका अपने पिता के घर से हुई थी फरार

प्रेमिका के सो रहे बच्चों को चोरी से ले जा रहे प्रेमी का प्रेमिका के पिता ने विरोध किया। बच्चों को छीनने का प्रयास किया, तभी प्रेमी ने प्रेमिका के पिता को गोली मारकर घायल कर दिया और मौके से फरार हो गया। अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र सिंह ने घटना की पुष्टि की है।घटना कमासिन थाना क्षेत्र के ग्राम महेड में हुई।

घटनाक्रम में बताया गया है कि श्याम सुंदर गौतम ने अपनी पुत्री पूजा उर्फ रोशनी की शादी 6वर्ष पहले नया गांव मध्य प्रदेश निवासी जुगलकिशोर तिवारी के साथ किया था।जिसके दो बच्चे पुत्री आंशिक उम्र5वर्ष तथा पुत्र अभिषेक उम्र ढाई वर्ष पैदा हुए।जिसके बाद जुगलकिशोर की मौत  हो गयी थी और पूजा बेवा होने के कुछ माह  बाद अपने पिता के घर महेड गांव आ गयी थी।इधर श्याम सुंदर के यहाँ दूर की रिश्तेदारी होने के कारण शीलू दुबे निवासी ग्राम विसन्डी व हरीश चंद्र पुत्र सरजू तिवारी निवासी ग्राम पखरौली का आना जाना हो गया था।इसी दौरान पूजा व शीलू के बीच अन्तरंग सम्बन्ध  हो गये।जिसके कारण पूजा करीब एक माह पहले अपने दोनों बच्चों को रोते बिलखते हुये छोड़ कर प्रेमी शीलू दुबे के साथ फरार हो गई थी।

जिसकी सूचना श्याम सुंदर ने थाना कमासिन में दी थी।लेकिन पुलिस द्वारा श्याम सुंदर की बात को संज्ञान नही लिया गया न ही मुकदमा पंजीकृत किया गया था।उन्ही दोनो बच्चों को लेने के लिए मंगलवार की रात को करीब 12बजे शीलू दुबे, हरीश चंद्र, व एक अज्ञात व्यक्ति बाइक से महेड आ गए और श्याम सुंदर के घर के अंदर प्रबेश करके सो रहे दोनो बच्चों को उठा लिया। दोनों बच्चे रोने लगे जिसके कारण आँगन में लेटे श्याम सुंदर की आँख खुल गयी और बच्चों को ले जाते देख श्याम सुंदर ने चारपाई के बगल में रखी कुल्हाड़ी उठा ली।तभी शीलू ने बच्चे को छोड़कर तमंचे से श्याम सुंदर पर फायर कर दिया।जिससे गोली पेट मे जा लगी और श्याम सुंदर बेहोश होकर जमीन में गिर पड़ा।

स्वजनों के जग जाने व चिल्लाने पर शीलू व अन्य दोनो हमलावर  मौके से भाग निकले।कमासिन थाने में श्रीमती बेबी मिश्रा ने शीलू दुबे, हरीश चंद्र तिवारी के खिलाफ धारा307 के तहद मुकदमा दर्ज कराया है।पुलिस ने घायल को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया जिसमे हालत नाजुक होने पर डॉक्टरों ने बाँदा रेफर कर दिया।लेकिन घायल की हालत अत्यअधिक नाजुक होने के कारण चिकित्सको द्वारा प्रयागराज स्वरूप रानी अस्पताल के लिये रेफर कर दिया है।जानकारी मिली हैं कि पुलिस ने एक आरोपी हरीश चंद्र को हिरासत में लेकर पूछ ताछ शुरू कर दी है। हरीशचंद्र और शीलू आपस मे दोनो रिश्तेदार है,हरिश्चन्द्र रिश्ते में शीलू का बहनोई है और कमासिन कॉपरेटिव बैंक में हरिश्चंद्र चपरासी के पद पर कार्यरत हैं।जिसको कमासिन पुलिस ने हिरासत में ले लिया है  और गहनता से पूछ ताछ की जा रही है।

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
2
funny
0
angry
0
sad
2
wow
0