हमीरपुर में 30 उर्वरक विक्रेताओं के यहां छापेमारी, एक दुकान का लाइसेंस निलम्बित

जनपद में मंगलवार को थोक फुटकर उर्वरक विक्रेताओं की दुकानों पर जिला कृषि अधिकारी ने टीम बनाकर छापेमारी की...

हमीरपुर में 30 उर्वरक विक्रेताओं के यहां छापेमारी, एक दुकान का लाइसेंस निलम्बित

हमीरपुर, (हि.स.)

  • कई उर्वरक विक्रेताओं को कमियां पाये जाने पर कारण बताओ नोटिसें जारी

इससे उर्वरक विक्रेताओं में हड़कंप मच गया। छापेमारी में एक उर्वरक विक्रेता की दुकान का लाइसेंस तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया वहीं कई विक्रेताओं को नोटिसें जारी कर कार्यवाही की गयी है।

यह भी पढ़ें : 6 माह बाद तहसीलों में फिर फरियादियों की भीड़ 

जिला कृषि अधिकारी डा.सरस कुमार तिवारी ने आज शाम बताया कि जनपद के समस्त थोक फुटकर उर्वरक विक्रेताओं की दुकानों में अचानक छापेमारी की गयी। तीस दुकानों में छापेमारी कर उर्वरकों के आठ नमूने लिये गये है। सात डीएपी तथा एक एनपीके उर्वरक का नमूना जांच के लिये एकत्र किया गया है। अंकित ट्रेडर्स राठ को उर्वरक का सही रखरखाव व स्टाक बोर्ड अपडेट न करने पर कठोर चेतावनी दी गयी है जबकि मां अम्बे भंडार मौदहा को अभिलेख न दिखाने पर कठोर चेतावनी दी गयी है।

यह भी पढ़ें : हमीरपुर : समाजसेवी ने शादी की सालगिरह पर रक्तदान कर बचाई जान

जिला कृषि अधिकारी ने बताया कि सहकारी क्रय विक्रय राठ की दुकान बंद पाये जाने पर कारण बताओ नोटिस जारी कर एआर कोआपरेटिव हमीरपुर को कार्यवाही करने की संस्तुति की गयी है।

यह भी पढ़ें : ‘इंजीनियर बनना और इंजीनियर होना दो अलग बातें हैं’

आनंद एजेंसी सुमेरपुर दुकान बंद कर भाग जाने के कारण उप कृषि निदेशक की संस्तुति पर दुकान का लाइसेंस निलम्बित कर दिया गया है। वर्मा खाद भंडार, खुशी खाद भंडार, एग्रीजक्शन बस स्टेशन राठ, पीसीएफ राठ के यहां उर्वरक न उपलब्ध होने के कारण तत्काल उर्वरक की उपलब्धता कराये जाने के कड़े निर्देश दिये गये है। छापेमारी के दौरान समस्त उर्वरक विक्रेताओं को नियमित रेट बोर्ड अपडेट करने, उर्वरकों के संतुलित प्रयोग निमित्त जागरूक करने के लिये बैनर लगाने और आधार तथा खतौनी के माध्यम से ही किसानों को जरूरत के हिसाब से उर्वरक बेचने के निर्देश दिये गये है।

यह भी पढ़ें : छत्रपति शिवाजी का आगरा कनेक्शन, जब औरंगजेब को दिया था चकमा

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
1
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0