लखनऊ में जन्मे बिरजू महाराज के निधन से संगीत की दुनिया शोकाकुल

लखनऊ में जन्मे सुप्रसिद्ध कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का 83 वर्ष की आयु में दिल्ली में निधन हो गया। इस समाचार से..

लखनऊ में जन्मे बिरजू महाराज के निधन से संगीत की दुनिया शोकाकुल
बिरजू महाराज (Birju Mahara)

लखनऊ में जन्मे सुप्रसिद्ध कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का 83 वर्ष की आयु में दिल्ली में निधन हो गया। इस समाचार से शोक की लहर दौड़ गयी। राजनीतिक गलियारे से संगीत की दुनिया तक बिरजू महाराज के प्रशंसक शोकाकुल हो गए, सभी ने नम आँखों से उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी।

यह भी पढ़ें - सामान्य से तीन डिग्री नीचे गिरा तापमान, शीतलहर के साथ बढ़ी गलन

दिल्ली में अंतिम साँस लेने वाले बिरजू महाराज का असली नाम बृजमोहन मिश्रा था। चार फरवरी 1938 को लखनऊ में जन्मे बिरजू महाराज, श्रेष्ठ नर्तक के साथ-साथ शास्त्रीय गायक और संगीतकार थे। बिरजू महाराज के शिष्यों में तमाम प्रशासनिक अधिकारी, आईएएस, आईपीएस, राजनीतिक लोग, धर्म-संस्कृति से जुड़े लोगों के साथ विदेशों में बड़ी संख्या में प्रशंसक रहे हैं।

बिरजू महाराज (Birju Mahara)

लखनऊ के कालका बिंदादीन घराने से संगीत की दुनिया में प्रवेश करने वाले बिरजू महाराज ने बड़ी लगन से कथक सीखा। कथक घराने में पैदा हुए बिरजू महाराज के पिता अच्छन महाराज और चाचा शम्भू महाराज स्वयं भी बड़े कलाकार रहे। पिता और चाचा की देखरेख में छोटे-से बृजमोहन मिश्रा देखते-देखते बिरजू और फिर बिरजू महाराज बन गये। सन् 1983 में पंडित बिरजू महाराज को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था।

यह भी पढ़ें - मुख्यमंत्री योगी ने दलित कार्यकर्ता के घर पर खायी खिचड़ी

यह भी पढ़ें - मकर संक्रांति पर केवल स्वस्थ्य व्यक्ति ही स्नान करे : मुख्यमंत्री योगी

हि.स

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
1